फसल अनुसंधान

फसल अनुसंधान प्रभाग

एकल फसल-क्रम या किसी भी क्रम में फसल बोने के बजाए, उसी खेत पर एक निर्दिष्ट क्रम में विभिन्न फसलों की क्रमानुसार खेती को फसल रोटेशन या सस्‍य क्रम कहते हैं। संपूर्ण मानव इतिहास में, जहां भी खाद्य फसलों की खेती की जाती रही, वहां पर कुछ विशेष प्रकार की फसलों को एक निश्चित क्रम (रोटेशन) में बोया जाता रहा है। मध्य अफ्रीका में 36 वर्षीय फसल- क्रम को अपनाया जाता है; जिसमें 35 साल की झाड़ियों और पेड़ों को काटने एवं जलाने के बाद रागी (फिंगर मिलेट) की एकल फसल की खेती की जाती है। विश्‍व के प्रमुख खाद्य-उत्पादक क्षेत्रों में बहुत कम अवधि के विभिन्न फसल-क्रमों का व्यापक रूप से उपयोग किया जाता है। उनमें से कुछ तो मूल संसाधनों की निरंतर उपयोगिता की परवाह किए बिना, तत्काल अधिकतम उपज प्राप्ति हेतु तैयार किए गए हैं। कुछ अन्‍य फसल क्रमों को संरक्षित संसाधनों के साथ लगातार अधिक उपज प्राप्ति के लिए अपनाया जाता है। प्रभावी फसल प्रणाली तैयार करने की योजना में अंतर्निहित सिद्धांतों की शुरुआत 19वीं शताब्दी के मध्य में हुई। शुरूआती दौर अर्थात 19वीं शताब्दी के मध्य में इंग्लैंड के रोपमस्टेड प्रायोगिक स्टेशन में कुछ प्रयोग किये गये जिनमें फसल क्रम के चयन की उपयोगिता को तीन भागों में वर्गीकृत किया गया है : पंक्तियों में बुवाई, बहुत पास-पास उगने वाले अनाज, और सॉड-निर्माण या अन्‍य फसलों को लिया गया। इस प्रकार का वर्गीकरण मृदा के सतत संरक्षण और उत्पादन अर्थव्यवस्था के हित में फसलों के संतुलन हेतु एक अनुपातिक आधार प्रदान करता है। यह कई प्रकार की परिस्थितियों में फसलों को समायोजित करने में आवश्‍यकतानुसार बदलाव जैसे कवर फसलों तथा हरे उर्वरकों को शामिल करने हेतु उपयुक्त होता है ।  

हमारे वैज्ञानिक

क्रम सवैज्ञानिक का नामपदप्रोफाईल विवरणी
1.डॉ. ए.के. चौधरी (खाद्य प्रसंस्‍करण)प्रभारी विभागाध्‍यक्ष एवं प्रधान वैज्ञानिक
2.डॉ. संजीव कुमार (सस्‍य विज्ञान), प्रधान वैज्ञानिक
3.डॉ. (श्रीमती) शिवानी (सस्‍य विज्ञान), प्रधान वैज्ञानिक
4.डॉ. मोहम्‍मद मोनोब्रुल्‍लाह (कृषि कीटविज्ञान), प्रधान वैज्ञानिक
5.डॉ. नारायण भक्‍त (आनुवांशिकी एवं पादप प्रजनन), प्रधान वैज्ञानिक
6.डॉ. संतोष कुमार
(पादप प्रजनन), वरिष्ठ वैज्ञानिक
7.डॉ. राकेश कुमार(सस्‍य विज्ञान), वरिष्ठ वैज्ञानिक
8.श्री करनेना कोटेश्‍वर राव (मृदा विज्ञान), वैज्ञानिक
9.श्री सुरजीत मंडल (मृदा विज्ञान- मृदा भौतिकी- एसडब्‍ल्‍यूसी), वैज्ञानिक
10.श्री अभिषेक कुमार दुबे (पादप रोग विज्ञान), वैज्ञानिक
11.डॉ. मनीषा टम्टा (कृषि मौसमविज्ञान), वैज्ञानिक on study leave
12.डॉ. नौंगमेथेम सिंह राजू (कृषि वानिकी), वैज्ञानिक
13.डॉ. कुमारी शुभा (सब्‍जी विज्ञान), वैज्ञानिक
14.डॉं. रचना दुबे(पर्यावरण विज्ञान), वैज्ञानिक
15.डॉं. सौरभ कुमार (कृषि सूक्ष्म जीव विज्ञान), वैज्ञानिक
16.श्री गोविन्द मकराना (सस्‍य विज्ञान), वैज्ञानिक